शोले का रीमेक बनाने के खिलाफ हूं : रमेश सिप्पी



हिंदी फिल्म 'शोले' के निर्देशक रमेश सिप्पी इस लोकप्रिय फिल्म का रीमेक बनाए जाने के खिलाफ हैं। इसी हफ्ते 'शोले' फिल्म की रिलीज को 40 वर्ष पूरे होने वाले हैं। फिल्म निर्माता रामगोपाल वर्मा ने अमिताभ बच्चन, दक्षिण के अभिनेता मोहनलाल, अजय देवगन, प्रशांत राज सचदेव और सुष्मिता सेन को लेकर आग के नाम से इसका रीमेक बनाने का प्रयास किया था जिसकी काफी आलोचना हुई और यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह विफल रही। 

सिप्पी ने यहां एक इंटरव्यू में पीटीआई से कहा, 'दुनिया चुनौतियों से भरी हुई है... वे अधिकार हासिल कर सकते हैं... और अगर कोई सोचता है कि वह बेहतरीन फिल्म बना सकता है तो उसे बनाना चाहिए।' जिन्होंने बनाया (रीमेक) वे विफल रहे। मैंने उन्हें (आरजीवी को) इसे नहीं बनाने की सलाह दी थी। 

उन्होंने कहा, 'मैंने भी इसे फिर छूने का प्रयास नहीं किया क्योंकि लोग अब भी शोले को याद करते हैं। मैं इसका रीमेक बनाने की सलाह नहीं दूंगा।' शोले दो अपराधियों वीरू और जय ( अमिताभ और धर्मेंद्र) की कहानी है जिसे एक सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी, डकैत गब्बर सिंह को पकड़ने के लिए किराये पर बुलाता है। हेमा मालिनी और जया भादुड़ी ने उनकी प्रेमिका की भूमिका निभाई है। 




लोकप्रियता के सभी मानदंडों को तोड़ देने वाले इस ऐक्शन फिल्म का निर्देशन रमेश सिप्पी ने किया और इसके निर्माता उनके पिता जी पी सिप्पी हैं। यह बॉलीवुड की सर्वाधिक देखी जाने वाली फिल्मों में है। सिप्पी ने कहा, 'जब मैं फिल्म बना रहा था तो मैंने सोचा भी नहीं था कि दर्शकों पर इसका इतना प्रभाव होगा। हमारा इरादा अच्छी फिल्म बनाना था और इसके लिए हमने काफी कड़ी मेहनत की।' इस फिल्म में पहली बार दो प्रतिभाशाली अभिनेता एक साथ आए, हमने इंग्लैंड और इटली से ऐक्शन मास्टर बुलाए।

SOURCE - NAVBHARAT

A News Center Of Filmy News By Information Center

Google+ Followers