बॉलीवुड एक्ट्रेस और डांसर राखी सावंत की मानें तो खुद को देवी कहने वाली राधे मां उनके लिए भगवान

 फाइल फोटो : राखी सावंत और राधे मां

मुंबई. बॉलीवुड एक्ट्रेस और डांसर राखी सावंत की मानें तो खुद को देवी कहने वाली सुखविंदर कौर उर्फ राधे मां उनके लिए भगवान की तरह हैं। एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने राधे मां की जमकर वकालत की। उन्होंने कहा, "मुझे राधे मां बहुत अच्छी लगती हैं। वे हमेशा नए-नए कपड़े पहनती हैं, जेवर पहनती है। मुझे नहीं पता क्या है, लेकिन कुछ तो कशिश है, जो लोग उन्हें फॉलो करते हैं। मैं नहीं जानती कि उनके अंदर देवी है या नहीं, लेकिन एक लेडी सबको रूल करती है, मुझे बहुत अच्छा लगता है।"
इतना ही नहीं, जब राखी से राधे मां के मिनी स्कर्ट पहनने पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि कितने ही आर्टिस्ट्स के चेहरे न्यूड फोटोज पर फिट कर दिए जाते हैं, तो क्या वे उनकी असली फोटो हो जाती हैं। राखी की मानें तो स्कर्ट वाली फोटोज में राधे मां है ही नहीं। इस दौरान राखी ने यह दलील भी दी कि देवी 24 घंटे तो किसी लेडी के शरीर में नहीं रहेगी और यदि राधे मां मिनी स्कर्ट पहनती हैं तो इसमें गलत क्या है।

आसाराम पर साधा निशाना

राधे मां का बचाव करते हुए राखी ने जेल में बंद आसाराम पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, "रेप करने वाला भगवान कैसे बन सकता है। वो जो जेल में सड़ रहा है।" जब ऐसे लोग बाबा बन सकते हैं, भगवान बन सकते हैं, तो एक लेडी माता क्यों नहीं बन सकती। किस किताब में लिखा है कि एक बहू, एक बच्चा पैदा करने वाली लेडी देवी नहीं बन सकती।

राधे मां का मन हुआ तो गोद में घूमी

जब राखी सावंत से पूछा गया कि राधे मां भक्तों के गोद में बैठ जाती हैं, ऐसा क्यों तो उन्होंने जवाब दिया, "इसमें गलत क्या है? राधे मां का मन हुआ कि वे अपने भक्त की गोद में घूमें, इसलिए चली गई होंगी।" राखी राधे मां के फ़िल्मी गानों पर डांस करने को भी गलत नहीं मानती हैं। वे कहती हैं. "जब तक देवी शरीर के अंदर है, तब तक वे राधे मां हैं, लेकिन देवी के निकलने के बाद वे भी तो एक आम लेडी हैं। फिर वे जो करना चाहें कर सकती हैं।"

कौन है राधे मां?

राधे मां पंजाब के गुरदासपुर जिले में एक सिख परिवार में जन्मीं। उनकी शादी पंजाब के ही रहने वाले बिजनेसमैन सरदार मोहन सिंह से हुई। शादी के बाद एक महंत से राधे मां की मुलाक़ात हुई। इसके बाद ही उन्होंने आध्यात्मिक जीवन अपना लिया। कुछ समय बाद वे मुंबई आ गईं और राधे मां के नाम से मशहूर हो गईं। राधे मां खुद को देवी का अवतार मानती हैं।

राधे मां पर क्या हैं आरोप?

1. राधे मां पर एक महिला को उसके पति और ससुरालवालों से दहेज के लिए प्रताड़ित करवाने का आरोप लगा है। मुंबई की बोरीवली पुलिस ने इस मामले में राधे मां समेत सात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। केस दर्ज कराने वाली महिला का आरोप है कि शादी के वक्त उसके पेरेंट्स ने करोड़ों रुपए की ज्वैलरी दी थी। लेकिन राधे मां ने उसके सास-ससुर से कहा कि वह उस पर और दहेज लाने का दबाव डाले। इसके बाद उसे प्रताड़ित किया गया।
2. राधे मां की स्कर्ट पहनी तस्वीरें सामने आने के बाद मुंबई की एक वकील फाल्गुनी ब्रह्मभट‌्ट ने एक और केस दर्ज कराया है। वकील ने अपनी शिकायत में कहा है कि राधे मां धर्म के नाम पर लोगों के साथ धोखाधड़ी कर रही हैं। वे अश्लीलता भी फैला रही हैं।

ऋषि कपूर ने ली ट्विटर पर चुटकी


बॉलीवुड एक्टर ऋषि कपूर ने ट्विटर पर खुद को देवी कहने वाली राधे मां और अन्य कथित बाबाओं के खिलाफ मोर्चा खोला है। उन्होंने इन्हें लेकर कई ट्वीट्स किए हैं। राधे मां को लेकर उन्होंने लिखा है, "लिपस्टिक, आई शैडो, ज्वैलरी और भी बहुत कुछ...कहीं यह बिना चश्मे के मेरा दोस्त बप्पी लाहिड़ी तो नहीं।"
इस ट्वीट में उन्होंने राधे मां के बहाने ही सही, लेकिन कहीं न कहीं बप्पी लाहिड़ी का मजाक भी उड़ाया है। इसके अलावा उन्होंने आसाराम, ओशो, सत्य साईं बाबा और राधे मां की एक फोटो शेयर करते हुए देश को जागने के लिए कहा है। उन्होंने लिखा है, "जागो इंडिया जागो! इन एक्टर्स द्वारा कमजोरी का फायदा उठाया जा रहा है। मैं भी एक्टर हूं, लेकिन सिर्फ मनोरंजन करता हूं। सोचना।"
ऋषि ने FTII के चेयरमैन गजेंद्र चौहान के साथ राधे मां की एक फोटो शेयर करते हुए उन पर कटाक्ष किया है। लिखा है, "एक एस्पायरिंग FTII स्टूडेंट एक स्पिरिंग FTII प्रिंसिपल को आशीर्वाद दे रही है। जय हो राधे राधे।" इतना ही नहीं, ऋषि ने अपनी एक फोटो शेयर करते हुए मजाकिया लहजे में कहा है कि एक बाबा और तैयार हो रहा है - ऋषि मुनि ऋषि।

सुभाष घई ने किया समर्थन

सुभाष घई और उनकी पत्नी की राधे मां के साथ एक तस्वीर सामने आई थी। इस पर घई ने शनिवार को सफाई दी। कहा- ‘‘माता वैष्णो देवी के भक्त होने के कारण हम राधे मां से मिलने बोरीवली जाते हैं। राधे मां हमें पेरेंट्स की तरह सम्मान देती हैं। हमने कभी भी उनके आसपास गलत तरह का माहौल महसूस नहीं किया। हमें यह भी मालूम है कि वे नॉर्मल और सेंसेटिव महिला हैं जिनके दो बच्चे हैं। वे किसी आम महिला की ही तरह नॉर्मल सोशल लाइफ जीती हैं। लेकिन देवी के रूप में वे भजन पसंद करती हैं और कभी-कभी भक्तों के साथ नाचती हैं। वे चाहती हैं कि उनके भक्त उन्हें बच्चों की तरह ट्रीट करें।’’
SOURCE - bollywood.bhaskar

A News Center Of Filmy News By Information Center

Google+ Followers